असहयोग आंदोलन की महत्वपूर्ण उपलब्धियां-
x

असहयोग आंदोलन की महत्वपूर्ण उपलब्धियां-

असहयोग आंदोलन पूर्णतया सफल रहा लेकिन आंदोलन को अन्य दिशाओं में अपर्याप्त सफलता मिली तथा उनके महत्वपूर्ण परिणाम निकले जिनमें से कुछ निम्नलिखित है-

असहयोग आंदोलन की महत्वपूर्ण उपलब्धियां-
x
असहयोग आंदोलन की महत्वपूर्ण उपलब्धियां-

1-ब्रिटिश साम्राज्य पर कुठाराघात-

असहयोग आंदोलन ने ब्रिटिश सरकार की नींव हिला दी और उनकी दुर्बलता ने स्पष्ट हो गई भारतीय जनता की राज भक्ति पूर्णता समाप्त हो गई।

free online mock test

2-स्वराज्य का संदेश-

आंदोलन ने स्वराज्य का संदेश घर घर में पहुंचा दिया सभी वर्गों के लोगों को महसूस हो गया कि उन्हें स्वराज्य प्राप्त करना है और उसकी प्राप्ति के लिए नौकरशाही से मोर्चा लेना है।

3-राष्ट्रीयता का संचार-

यह प्रथम जन आंदोलन था जिसने विभिन्न संप्रदायों और प्रांतों के लोगों में राष्ट्रीयता की भावना को उद्वेलित किया इसी आंदोलन नए राष्ट्रीय भावना और राष्ट्रीय एकता का सूत्रपात किया अब कांग्रेसका आंदोलन केवल कुछ पढ़े लिखे लोगों तक सीमित न रहकर जन आंदोलन बन गया।

4-राष्ट्रीय आंदोलन को शक्ति प्रदान करना-

असहयोग आंदोलन ने राष्ट्रीय आंदोलन को शक्ति प्रधान की और उसे एक नई दिशा को गति दी।

5-कांग्रेस की नीति और स्वरूप में परिवर्तन-

यह प्रथम जन आंदोलन था जिसने विभिन्न संप्रदायों और प्रांतों के लोगों में राष्ट्रीयता की भावना को उद्वेलित किया इसी आंदोलन नए राष्ट्रीय भावना और राष्ट्रीय एकता का सूत्रपात किया अब कांग्रेसका आंदोलन केवल कुछ पढ़े लिखे लोगों तक सीमित न रहकर जन आंदोलन बन गया।

6-विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार-

विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार इसका एक प्रमुख कार्यक्रम था आंदोलनकारियों ने स्वदेशी वस्तुओं को अपनाया तथा राष्ट्रीय संस्थाओं की स्थापना की फलता भारतीयों में स्वदेशी वस्तुओं के लिए प्रेम जागृत हुआ तथा कुटीर उद्योगों को प्रोत्साहन मिला।

7-निर्भीकता की भावना का विकास-

इस आंदोलन ने भारतीयों की आंखें खोल दी सरकारी अधिकारियों तथा उनके आतंक का जनता के दिल की दिल से वेदर हो गया आम जनता के मस्तिष्क से जिलों तथा ब्रिटिश सरकार की शक्ति का भव्य जाता रहा जेल जाना आप गौरव की बात समझी जाने लगी वह साम्राज्य के विरुद्ध आंदोलन करने के लिए सचेत हो गए।

यद्यपि आंदोलन अकस्मात बंद कर दिया गया तथा यह कोई विशेष सफलता भी प्राप्त नहीं कर सका तथापि असहयोग आंदोलन ने अंग्रेजों को यह अनुभव करा दिया कि भारतीय जनता अत्याचार व अनाचार को अब ज्यादा दिन सहन नहीं कर सकती है तथा भारतीय जनता की उचित मांगों की और सरकार को अवश्य ही ध्यान देना चाहिए इस आंदोलन की सर्वाधिक महत्वपूर्ण उपलब्धियां यह थी।

कि यद्यपि अपने उद्देश्य की प्राप्ति में तो यह सफल रहा तथा पीसने भविष्य के आंदोलनों की सफलता का मार्ग प्रशस्त कर दिया पहली बार सत्याग्रह के अस्त्र का प्रयोग किया गया और इस आंदोलन द्वारा इस स्तर के प्रभाव का पता चल गया महात्मा गांधी ने भारत के आंदोलन में इस अस्त्र का प्रयोग सफलतापूर्वक किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *