धातु एवं अधातु
x

धातु एवं अधातु

धातु एवं अधातु
x

1-धातु

धातु एक ऐसे कठोर पदार्थ है जो विद्युत के अच्छे चालक होते हैं एवं बहुत प्रकार के गुण रखते हैं जैसे भंगुरता, तन्यता, कठोरता, आघातवर्धनीयता इत्यादि|

धातु प्राय: उन तत्‍वो  को कहा जाता है जो सामान्‍य रासायनिक अभिक्रियाओ के दौरान अपने परमाणुओं मे से एक या एक से अधिक इलैक्‍टान त्‍यागकर धनायन बनने की प्रव्रत्ति रखते है ,धातु कहलाते है।

धातुओ केा धन विद्यु‍ती तत्‍व भी कहा जाता है । जैसे लोहा तॉबा सोना चादी आदि ।

2-कुछ धातुओं के नाम

1-लिथियम

2-बेरिलियम

3-सोडियम

4-टाइटेनियम

5-एलुमिनियम

free online mock test

2-अधातु

अधातु उन्‍हे कहा जाता है जो रासायनिक अभिक्रियाओ के दौरान एक या एक से अधिक इलेक्‍टान ग्रहण करके ऋणायन बनाने की प्रवत्ति रखते है । अधातुओ को ऋण विद्युतीय तत्‍व   भी कहा जाता है।

धातु एवं अधातु
x
धातु एवं अधातु

जैसे आयेाडीन ब्रोमीन कार्बन सल्‍फर आदि ।

2-कुछ अधातुओं के नाम

1-हाइड्रोजन

2-कार्बन

3-हीलियम

4-नियान

5-सल्फर

3-धातु और अधातु के कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

1-सोडियम को केरोसिन में डुबोकर क्यों रखा जाता है।

उत्तर-सोडियम धातु का ज्वलन ताप बहुत कम होता हैै यदि यहांं धातु वाायु के संपर्क में संपर्क मेंं आती है तो आग पकड़ लेतीी है। अतु भाई से संपर्क हटाने के कारण सोडियम कोोो केरोसिन मेंं डुबोकर रखा जाताा है।

2-धातु तथा अधातु में अंतर क्या है।

धातु-

1-धातुएं क्षारीय ऑक्साइड बनाती है।

2-धातुएं तनु अम्लो से हाइड्रोजन विस्थापित कर देती है।

3-धातुएं क्लोरीन के साथ विद्युत संयोजी क्लोराइड बनाती है यह विद्युत संयोजी क्लोराइड विद्युत अपघटय परंतु अवाष्पीय होते हैं।

4-धातुएं अपचायक होती हैं।

अधातु-

1-अधातु अम्लीय तथा उदासीन ऑक्साइड बनाती है।

2-अधातु तनु अम्ल से अभिक्रिया नहीं करती इसलिए इनसे हाइड्रोजन विस्थापित नहींअधातु तनु अम्ल से अभिक्रिया नहीं करती इसलिए इनसे हाइड्रोजन विस्थापित नहीं करती।

3-अधातु क्लोरीन के साथ सहसयोजी योगिक बनाती है जो विद्युत अपघटय परंतु वास्पसील होते हैं।

4-अधातु ऑक्सीकारक होती है।

4-ऑक्सीजन के साथ संयुक्त होकर अधातु कैसा आप साइट बनाती है।

उत्तर-अम्लीय ऑक्साइड

One thought on “धातु एवं अधातु

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *