साबुन क्या होता है-
x

साबुन क्या होता है-

1-साबुन

साबुन लंबी श्रृंखला वाले फैटी एसिड के सोडियम या पोटेशियम लवण होते हैं। जब वसा / तेल में मौजूद ट्राइग्लिसराइड्स जलीय NaOH या KOH के साथ अभिक्रिया करते हैं, तो ये साबुन और ग्लिसरॉल में बदल जाते हैं। इसे एस्टर का क्षारीय हाइड्रोलिसिस कहा जाता है। चूंकि इस अभिक्रिया से साबुन बनता है इसलिए इसे सैपोनिफिकेशन की प्रक्रिया कहा जाता है।

साबुन क्या होता है-
x
साबुन क्या होता है-

2-साबुन से सफाई:

साबुन के एक अणु का एक आयनिक छोर होता है जो पानी में घुलनशील होता है। साबुन का दूसरा सिरा कार्बन चेन का बना होता है जो तेल में घुलनशील होता है।

free online mock test

साबुन के अणु ग्रीस में उपस्थि तेल के कणों से जुड़कर एक गोले जैसी रचना बनाते हैं। इस रचना को मिसेल कहते हैं। एक मिसेल में आयनिक सिरे (हाइड्रोफिलिक सिरा) पानी की तरफ रहते हैं।

और तेल वाला सिरा (हाइड्रोफोबिक) केंद्र की तरफ होता है। इसके कारण साबुन पानी में इमल्सन बनाता है। मैल और चिकनाई इमल्सन के साथ बाहर निकल जाती है। इस तरह से साबुन से सफाई हो जाती है।

साबुन क्या होता है-
x
साबुन क्या होता है-

2-अच्छे साबुन की विशेषताएँ: 

(1) इसमें मुक्त क्षार उपस्थित नहीं रहना चाहिए।

(2) यह ऐल्कोहॉल में विलेय होना चाहिए

(3) इसमें नमी की उपस्थिति 10% से अधिक नहीं होनी चाहिए।

(4) प्रयोग करते समय इसको चटखना नहीं चाहिए।

4-अपमार्जक (Detergents): 

साबुन द्वारा कपड़ों की धुलाई में अधिक परिश्रम करना पड़ता है तथा कठोर जल के साथ यह कठिनाई और अधिक हो जाती है। इस कठिनाई को दूर करने के लिए रसायनशास्त्रियों ने अनेक प्रयास किए। अंततः वे साबुन से भिन्न प्रकार की सफाई करने वाले पदार्थ के निर्माण में सफल हुए। इस पदार्थ को अपमार्जक अथवा साबुनरहित साबुन कहते हैं। इसका आविष्कार सर्वप्रथम जर्मनी में प्रथम विश्वयुद्ध के समय हुआ था।

साबुन क्या होता है-
x
साबुन क्या होता है-

प्रश्नः क्या साबुन त्वचा को रूखा बना देती है?

उत्तरः साबुन त्वचा को नुकसान पहुंचाती है ये बात गलत है। हो सकता है कि आपने पहले जिस साबुन का प्रयोग किया हो वो काफी कठोर हो जिससे त्वचा संबंधी समस्या हुई हो लेकिन ऐसा हर बार नहीं होता। मॉश्चरराइजर युक्त साबुन उसी प्रकार त्वचा की देखभाल करता है जिस प्रकार फेशवॉश।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *