12वीं के बाद विज्ञान के छात्रों को कौनसा कोर्स करना चाहिए?

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका मेरी वेबसाइट पर आज मैं आपको बताऊंगा की विज्ञान वाले छात्रों को जिन्होंने 12वीं PCM यानी कि फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ से की है तो वह 12वीं के बाद कौन कौन से ऐसे कोर्स है जिनके द्वारा आप आगे बढ़ सकते हैं।

विज्ञान के छात्रों के लिए 12वीं के बाद के कोर्स

दोस्तों आप ने 12वीं फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ यानी PCM से की है और और विज्ञान से संबंधित 12वीं के बाद ऐसे कोर्स बताऊंगा जो आप चुनकर अपना भविष्य बना सकते हैं।

इंजीनियरिंग Engineering

इंजीनियरिंग एक ऐसी फील्ड है जिसका सैलरी पैकेज काफी अच्छा होता है, और बहुत सी मल्टीनेशनल कंपनी है जिसमें इंजीनियर की डिमांड अधिक होती है।

इंजीनियर बनने के लिए आपको B.Tech या B.E. करना होगा, यह दोनों कोर्स को करने में 4 वर्ष का समय लगता है। B.Tech या B.E. करने के लिए आपको 12वीं PCM से पास होना जरूरी है।

B.Arch बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर

वैसे तो आप 12वीं के बाद कई सारे कोर्स कर सकते हैं लेकिन उन्हीं में से एक ओर कोर्स आता है बी.आर्च इसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर होता है। नाम से आपको लग रहा होगा कि आर्टिटेक बिल्डिंग डिजाइन का काम होगा जी हां आपने सही समझा इसमें यही काम होता है इसकी में और जानकारी आपको दूं तो आप यह 12वीं के बाद कोर्स कर सकते हैं। अगर आपने 12th PCM से क्या है तो आपके लिए इस कोर्स को करने का बहुत अच्छा ऑप्शन है इसमें आपको बड़ी बड़ी बिल्डिंग, कॉलेज, कंपनी, स्कूल, गवर्मेंट प्रॉपर्टी आदि की डिजाइन करने का काम मिलता है।

तो दोस्तों बात करते हैं बी.आर्च कोर्स में आपका एडमिशन कैसे होगा अगर आपकी उम्र 17 साल से ऊपर है तो आप इस कोर्स के लिए एलिजिबल हो और इसमें उम्र का कोई रोल नहीं है आपकी कितनी भी उम्र हो आप ऐडमिशन ले सकते हैं पर आपकी उम्र 17 साल से ऊपर होनी चाहिए। अगर आपको बी.आर्च बेस्ट कॉलेज से करना है तो आप इसके लिए एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हो NATA यानी नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट इन आर्किटेक्चर द्वारा टेस्ट लिया जाता है। यह एक नेशनल लेवल का टेस्ट है इसे काउंसलिंग ऑफ आर्किटेक्चर के द्वारा करवाया जाता है। अगर आप वह पास कर लेते हैं तो आपको बेस्ट कॉलेज में इसका एडमिशन अवश्य मिलेगा।

बात करते हैं इसके भविष्य के बारे में इसका भविष्य बहुत ही विशाल है क्योंकि बिल्डिंग्स बनना कभी बंद नहीं होंगी और आपने देखा होगा कि आज के समय में बहुत ही अद्भुत बिल्डिंग्स बनना स्टार्ट हो गई है तो आपका करियर इसमें बहुत अच्छा जाएगा।

integrated M.Sc इंटीग्रेटेड मास्टर ऑफ साइंस

अगर आप 12वीं के बाद कोर्स करना चाहते हैं तो आप इंटीग्रेटेड एमएससी कोर्स भी कर सकते हैं। यह कोर्स 5 साल का होता है। इस कोर्स को करने के लिए आप IIT भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, IISC यानी भारतीय विज्ञान संस्थान, IISER यानी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च के द्वारा कर सकते हैं।

अब आप सोच रहे होंगे कि इंटीग्रेटेड एमएससी कोर्स करने के लिए इंडिया में कौन सा बेस्ट कॉलेज सही रहेगा तो मैं आपको बताऊं कि आई.आई.एस.सी और आई.आई.एस.ई.आर आज इंडिया में सबसे बेस्ट कॉलेज है। अगर आप इंटीग्रेटेड एम.एस.सी का कोर्स करने के लिए इच्छुक है तो आप इन बेस्ट कॉलेज में अपना एडमिशन ले सकते हैं।

BCA बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन

आजकल विद्यार्थियों की रुचि कंप्यूटर फील्ड में ज्यादा हो रही है, इसलिए कई सारे स्टूडेंट 12वीं पास करने के बाद कंप्यूटर फील्ड में जाना चाहते हैं और कंप्यूटर फील्ड में जाने के लिए बी.सी.ए कोर्स काफी अच्छी चॉइस है। लेकिन आपको इस कोर्स में एडमिशन लेने से पहले इसकी पूरी जानकारी होनी चाहिए और बी.सी.ए करने के बाद आपका भविष्य में क्या होगा और इसमें कैसी पढ़ाई होती है तथा यह कोर्स करने पर आपको कितनी सैलरी मिल सकती है।

तो आइए जान लेते हैं बी.सी.ए क्या है बी.सी.ए एक डिग्री प्रोग्राम है इसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन है जिसे हम एक अंडर ग्रैजुएट डिग्री कोर्स भी कह सकते हैं। यह कोर्स 3 साल का होता है और इस कोर्स को आप 12वीं पास करने के बाद भी कर सकते हैं। इस कोर्स में आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और कंप्यूटर साइंस से रिलेटेड कोर्स पढ़ाया जाता है ओर यह एक टेक्निकल डिग्री कोर्स है जिसमें स्टूडेंट को टेक्निकल फील्ड के लिए तैयार किया जाता है।

अगर आप यह कोर्स करते हैं तो आगे जाकर आप कंप्यूटर या आई.टी की फील्ड में आसानी से जॉब कर सकते हैं और इसमें आपको सैलरी भी काफी अच्छी मिलती है जिससे आप अपना भविष्य अच्छा बना सकते हैं। यह कोर्स करने का एक और फायदा है कि इससे आपको कंप्यूटर के बारे में बहुत सारे ज्ञान हो जाएगा जैसे कि सॉफ्टवेयर कैसे बनता है। अगर आप यह कोर्स करते हैं तो आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी भी कर सकते हैं।

B.Com बैचलर ऑफ कॉमर्स

बी.कॉम एक ऐसा कोर्स है जिसमें आपको अकाउंट मेंटेन यानी कि लेखा-जोखा वाला काम मिलता है और बी.कॉम का कोर्स 6 सेमेस्टर का होता है। अगर आप यह कोर्स करते हैं तो आपको इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, बिजनेस लॉ, फाइनेंस मैनेजमेंट, मार्केटिंग मैनेजमेंट, बैंकिंग लॉ, कंप्यूटर, लेबर लॉ, इकोनॉमिक्स, पर्सनल मैनेजमेंट, स्टैटिक्स, कॉस्ट अकाउंटिंग, अकाउंटिंग आदि विषय के बारे में पढ़ाया जाता है। आपने 12वीं के बाद बी.कॉम का कोर्स किया है तो आप काफी अच्छी नौकरी पा सकते हैं। बीकॉम कोर्स करने के बाद आपको बिजनेस कंसल्टेंसी, एजुकेशन, बैंकिंग इंस्टीट्यूट, इन्वेस्टमेंट बैंकिंग सेक्टर, पब्लिक अकाउंटिंग फर्म्स, वर्किंग कैपिटल मैनेजमेंट, ऑडिटिंग, फॉरेन ट्रेड सेंटर, इंडस्ट्रियल हाउसिंग, टेलीकम्युनिकेशन और मार्केटिंग कंपनी में आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते हैं और इसमें काफी अच्छी सैलरी भी दी जाती है।

B.Sc. Degree बैचलर ऑफ साइंस

बी.एस.सी. की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ साइंस होती है और आपको नाम से ही पता चल रहा होगा कि यह कोई साइंस साइड की फील्ड है। बी.एस.सी ऐसा कोर्स है जो काफी ज्यादा स्टूडेंट करते हैं बी.एस.सी. वाले स्टूडेंट आपको डॉक्टर भी मिलेंगे और बैंकर भी मिलेंगे तथा बी.एस.सी. वाले विद्यार्थी कई सरकारी नौकरियां पा रहे हैं। बी.एस.सी. का कोर्स 3 साल का होता है और आप यह कोर्स करने के बाद ग्रैजुएट माने जाते हैं। अगर आपने 12वीं कर ली है और आप के 50% से मार्क ज्यादा है तो आप यह कोर्स कर सकते हैं।

बीएससी यानी बैचलर ऑफ साइंस में, केमिस्ट्री, बायोकेमिस्ट्री, बायोलॉजी, बॉटनी, कंप्यूटर साइंस, एनवायरमेंटल साइंस, फिजिक्स इलेक्ट्रॉनिक्स, मैथमेटिक्स, जूलॉजी मैं से कोई तीन से चार सब्जेक्ट छोड़कर अपनी पढ़ाई कर सकते हैं।

अब बात करें तो गवर्नमेंट जॉब्स की तो बीएससी में सबसे ज्यादा गवर्नमेंट जॉब्स निकलती है। आप इस कोर्स के द्वारा केमिस्ट, डेयरी टेक्नोलॉजिस्ट, डॉक्टर, इकोलॉजिस्ट, लेबोरेटरी टेक्नीशियन, जियोलॉजिस्ट, फार्मासिस्ट, प्लांट बायोकेमिस्ट्स, साइंस एडवाइजर आदि में नौकरी कर कर अपना भाग्य चमका सकते हैं और इन सेक्टर में सैलरी पैकेज भी काफी अच्छा होता है।

B.Des बैचलर ऑफ डिजाइन

अगर आपको फैशन और डिजाइन से संबंधित काम पसंद है तो आपके लिए यह कोर्स बहुत अच्छा है। आज का दौर बहुत फैशनेबल चल रहा है और आने वाले समय में यह बहुत ही आगे जाएगा। इस कोर्स के लिए आप 12वीं पास से एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन B.Des कोर्स की फीस काफी ज्यादा होती है इसलिए सामान्य वर्ग का व्यक्ति इस कोर्स को नहीं कर पाता है। अगर आपको फैशन और डिजाइन से रिलेटेड काम अच्छा लगता है तो आप इस कोर्स को 12वीं के बाद कर सकते हैं।

BA बैचलर ऑफ आर्ट्स

बी.ए का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ आर्ट्स होता है। बी.ए करना अन्य कोर्स से आसान होता है इसलिए ज्यादातर विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन बी.ए से ही शुरू करते हैं और इस कोर्स को आप 12वीं पास होने के बाद भी कर सकते हैं। बी.ए का कोर्स 3 साल का होता है आप इसे रेगुलर और प्राइवेट दोनों में से कोई भी कर सकते हैं।

बी.ए कोर्स की फीस प्राइवेट कॉलेजेस में 10 से 20 हजार के लगभग होती है और गवर्नमेंट कॉलेज में बहुत कम होती है। बी.ए करने के बाद आप एम.ए, डिप्लोमा, एल.एल.बी, एम.बी.ए आदि कोर्स भी कर सकते हैं।

आप बी.ए करने के बाद आप पब्लिक रिलेशन एग्जीक्यूटिव, इकोनॉमिस्ट, पब्लिक सर्वेंट, जर्नलिस्ट, बजट एनालिस्ट, कॉपीराइटर, कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव, टीचर, सोशल वर्कर, एच.आर. एग्जीक्यूटिव बिजनेस राइटर रिसर्च असिस्टेंट, कांटेक्ट राइटर, साइंटिस्ट, प्रोफेसर आदि जॉब की फील्ड में काम कर कर काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

अंतिम निष्कर्ष– दोस्तों आज मैंने इस पोस्ट के द्वारा आप को यह समझाया कि जिन छात्रों को विज्ञान पसंद है और 12वीं के बाद वह विज्ञान से संबंधित कोई सा कोर्स करके अपना भविष्य बना सकते हैं। मेरे द्वारा बताई गई है जानकारी आपको पसंद आती है तो अपने दोस्तों में इसे जरूर शेयर करें जय हिंद जय भारत।

Read More10वीं पास वाले कौन-कौन सी सरकारी नौकरी पा सकते हैं?



6 Comments

6 comments on "12वीं के बाद विज्ञान के छात्रों को कौनसा कोर्स करना चाहिए?"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post
Popular Post