चुंबक क्या है? और चुंबक कितने प्रकार की होती है व इसके उपयोग

magnet in hindi चुंबक क्या है, चुंबक उस पदार्थ को कहते हैं जो लोहा, कोबाल्ट तथा निकिल को अपनी ओर आकर्षित करता है। जैसे लोहे को चुंबक के पास रखने पर लोहा चुंबक की ओर आकर्षित होता है तो इसी को चुम्बकीय आकर्षण भी कहते हैं।

चुंबक क्या है

दोस्तों हमने यह जान लिया है कि चुंबक क्या है तथा इसे किसी अन्य परिभाषा से भी जान लेते हैं कि यह क्या होता है।

लोहा, कोबाल्ट तथा निकिल को चुंबक के पास रखने पर वह पदार्थ चुंबक की ओर आकर्षित होता है तो उसे चुंबक कहते हैं तथा चुंबक की ओर पदार्थ का आकर्षित होना उसका चुंबकीय आकर्षण कहलाता है। चुंबक के चुंबकीय पदार्थों को आकर्षित करने के गुण को चुंबकत्व कहते हैं।

चुंबक के प्रकार

चुंबक मुख्य रूप से दो प्रकार की होती हैं प्राकृतिक और कृत्रिम चुंबक।

चुंबक क्या है? और चुंबक कितने प्रकार की होती है व इसके उपयोग

प्राकृतिक चुंबक

लगभग ढाई हजार साल पहले एशिया के मैग्नीशिया शहर में मनुष्य को एक पत्थर मिला जिसमें छोटे-छोटे टुकड़ों को आकर्षित करने का गुण पाया गया था तथा इस पत्थर में लोहे के ऑक्साइड, फेरिक ऑक्साइड या मैग्नेटाइट पाए गए थे और इस पत्थर के टुकड़े को स्वतंत्रतापूर्वक लटकाने पर एक निश्चित दिशा उत्तर-दक्षिण में ठहरता है तथा इसे लोड स्टोन या प्राकृतिक चुंबक के नाम से भी जाना जाता है।

कृत्रिम चुंबक

दोस्तों हमने प्राकृतिक चुंबक क्या है इसके बारे में तो जान लिया है, तो अब जान लेते हैं कि कृत्रिम चुंबक क्या होता है।

कृत्रिम चुंबक को मनुष्य द्वारा निर्मित किया जाता है, इसे बनाने के लिए अत्यधिक चुंबकीय क्षेत्र में लोह चुम्बकीय पदार्थ को रख देते हैं जिसके कृत्रिम चुंबक बनता है तथा इस लोह चुंबकीय पदार्थ में चुंबक के गुण भी आ जाते हैं।

कृत्रिम चुंबक के प्रकार

कृत्रिम चुंबक उनके आकार व उनकी बनावट के आधार पर स्थाई और अस्थाई दो प्रकार की होती हैं।

स्थाई चुंबक

स्थाई चुंबक को स्टील, निकिल तथा कोबाल्ट जैसी धातुओं से बनाया जाता है, इसकी चुंबकीय शक्ति शीघ्र नष्ट नहीं होती है।

चुंबक क्या है? और चुंबक कितने प्रकार की होती है व इसके उपयोग

अस्थाई चुंबक

दोस्तों हमने स्थाई चुंबक क्या है यह तो जान लिया है, तो अब जान लेते है कि अस्थाई चुंबक क्या होता है।

अस्थाई चुंबक को मुलायम लोहे के द्वारा बनाया जाता है, इस लोहे पर धात्विक तार की कुंडली लपेटकर कुंडली में धारा बहाने से लोहा, चुंबक बन जाता है तथा अस्थाई चुंबक की शक्ति शीघ्र नष्ट हो जाती है। इसका उपयोग बजर, विद्युत घंटी, मोटर आदि में किया जाता है।

चुंबक बनाने की विधि

चुंबक को स्पर्श विधि और इलेक्ट्रिकल करंट विधि के द्वारा बनाया जाता है।

  1. स्पर्श विधि– इस विधि के द्वारा किसी छड़ को चुंबक के साथ बार-बार रगड़ने पर उसमें चुंबक के गुण आ जाते हैं।
  2. इलेक्ट्रिकल करंट विधि– जब किसी छड़ या लोहे के टुकड़े में तार लपेटकर उस में विद्युत धारा प्रवाहित की जाती है तो वह लोहे का टुकड़ा या छड़ चुंबक बन जाता है तथा यह जब तक चुंबक बना रहता है जब तक कि छड़ में विद्युत धारा प्रवाहित होती रहती है। इलेक्ट्रिकल करंट विधि द्वारा बनाई गई चुंबक का उपयोग इलेक्ट्रिक उपकरण, मोटर, पंखे आदि में होता है।

चुंबक के उपयोग

स्थाई और अस्थाई चुंबक के प्रकार के आधार पर चुंबक का उपयोग अलग-अलग जगहों पर किया जाता है।

  1. स्थाई चुंबक का उपयोग हेडफोन, लाउडस्पीकर, डायनेमो चुंबकीय सुई, मीटर आदि में किया जाता है।
  2. अस्थाई चुंबक का उपयोग विद्युत मोटर, विद्युत जनरेटर, विद्युत घंटी, इलेक्ट्रिकल उपकरण, रिले, MCB आदि में किया जाता है।

चुंबक का एस आई मात्रक क्या है?

चुंबक का एस आई मात्रक टेस्ला होता है

चुंबकीय क्षेत्र का एस आई मात्रक क्या है?

चुंबकीय क्षेत्र का एस आई मात्रक एंपियर/मीटर होता है।

चुंबक की खोज किसने की थी?

चुंबक की खोज सर्वप्रथम लगभग 4000 पहले Magnet नामक एक बुजुर्ग Cretan चरवाहा ने की थी। चरवाहा अपनी भेड़ें चराने जा रहा था और उसने लोहे के शोल वाले जूते पहने हुए थे तो उसके जूते में कुछ पत्थर के टुकड़े चिपक गए जिसे चुंबक के नाम से जाना जाता हैं।

चुंबक में कितने ध्रुव होते हैं?

चुंबक में दो ध्रुव होते हैं, उत्तरी ध्रुव और दक्षिणी ध्रुव

चुंबकीय पदार्थ क्या है?

चुंबक की ओर आकर्षित होने वाले पदार्थ को चुंबकीय पदार्थ कहते हैं।

विद्युत चुंबक क्या है?

जिस छड़ या लोहे के टुकड़े में विद्युत धारा प्रवाहित की जाती है, उसमें चुम्बकीय गुण उत्पन्न हो जाते हैं तथा उसे विद्युत चुंबक कहते हैं।

चुंबकीय क्षेत्र क्या है?

किसी चुंबक के चारों ओर का वह क्षेत्र जिसमें किसी चुंबकीय सुई पर बल आघूर्ण आरोपित होता है, जिसके कारण वह घूमकर एक निश्चित दिशा में ठहरती है उसे चुंबकीय क्षेत्र कहते हैं

चुंबक किस धातु से बनता है?

विद्युत चुंबक नर्म लोहे के बनाए जाते हैं, क्योंकि नर्म लोहे से विद्युत चुंबक शीघ्र बन जाता है।

चुंबक को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

चुंबक को इंग्लिश में मैग्नेट (magnet) कहा जाता है।

स्थाई चुंबक किसका बना होता है?

स्थाई चुंबक कोबाल्ट इस्पात से बनाया जाता है।

चुम्बकत्व बल की इकाई क्या है?

चुम्बकत्व बल की इकाई एम्पीयर/टर्न मीटर होती है।

अंतिम निष्कर्ष– आज आपको मेरे द्वारा बताई गई जानकारी की चुंबक क्या है उम्मीद है आपको यह पसंद आया होगा, इसे अपने मित्रों में शेयर करें और तुरंत जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें धन्यवाद

यह भी पढ़ें



3 Comments

3 comments on "चुंबक क्या है? और चुंबक कितने प्रकार की होती है व इसके उपयोग"

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post
Popular Post