जैव विविधता क्या है?
x

जैव विविधता क्या है? | परिभाषा, प्रकार, लाभ, महत्व

जैव विविधता पृथ्वी पर जीवन की विविधता को संदर्भित करती है, जिसमें प्रजातियों की विविधता, पारिस्थितिक तंत्र और प्रजातियों के भीतर आनुवंशिक विविधता शामिल है। यह पौधों, जानवरों, कवक और सूक्ष्मजीवों की विविधता के साथ-साथ उन पारिस्थितिक तंत्रों की विविधता को समाहित करता है,

जिनमें वे निवास करते हैं। जैव विविधता को ग्रह के स्वास्थ्य और लचीलेपन को बनाए रखने के साथ-साथ संसाधनों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, जिन पर मनुष्य भरोसा करते हैं।

free online mock test

जैव विविधता की परिभाषा (jaiv vividhata ki paribhasha)

जैव विविधता को पृथ्वी पर जीवन की विविधता के रूप में परिभाषित किया जा सकता है, जिसमें प्रजातियों की विविधता, पारिस्थितिक तंत्र और प्रजातियों के भीतर आनुवंशिक विविधता शामिल है। यह पौधों, जानवरों, कवक और सूक्ष्मजीवों की विविधता के साथ-साथ उन पारिस्थितिक तंत्रों की विविधता को समाहित करता है जिनमें वे निवास करते हैं।

जैव विविधता को ग्रह के स्वास्थ्य और लचीलेपन को बनाए रखने के साथ-साथ संसाधनों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, जिन पर मनुष्य भरोसा करते हैं।

यह स्थलीय, समुद्री, और अन्य जलीय पारिस्थितिक तंत्रों और पारिस्थितिक परिसरों सहित सभी स्रोतों से जीवित जीवों के बीच परिवर्तनशीलता को भी संदर्भित करता है, जिनमें से वे भाग हैं। इसमें प्रजातियों के भीतर, प्रजातियों के बीच और पारिस्थितिक तंत्र की विविधता शामिल है।

जैव विविधता के प्रकार (jaiv vividhata ke prakar)

जैव विविधता पृथ्वी पर जीवन की विविधता को संदर्भित करती है। इसमें प्रजातियों की विविधता, पारिस्थितिक तंत्र और प्रजातियों के भीतर आनुवंशिक विविधता शामिल है। जैव विविधता के विभिन्न प्रकार हैं, जिनमें शामिल हैं।

  • पारिस्थितिक तंत्र विविधता: विभिन्न प्रकार के आवासों और समुदायों को संदर्भित करता है जो पृथ्वी के जीवमंडल को बनाते हैं, जैसे वन, महासागर और आर्द्रभूमि।
  • प्रजाति विविधता: किसी विशेष क्षेत्र या क्षेत्र में रहने वाली विभिन्न प्रजातियों की विविधता को संदर्भित करता है।
  • आनुवंशिक विविधता: एक प्रजाति के भीतर आनुवंशिक भिन्नता की विविधता को संदर्भित करता है।
  • कार्यात्मक विविधता: भूमिकाओं, कार्यों और प्रक्रियाओं की विविधता को संदर्भित करता है जो विभिन्न प्रजातियों और उनकी अंतःक्रियाओं में पारिस्थितिकी तंत्र में होती है।
  • सांस्कृतिक विविधता: मानव संस्कृतियों और पारंपरिक ज्ञान की विविधता को संदर्भित करता है, विशेष रूप से मानव और प्रकृति के बीच संबंधों के संबंध में।

इस प्रकार की सभी जैव विविधता ग्रह और इसके निवासियों के स्वास्थ्य और भलाई के लिए महत्वपूर्ण हैं। वे परस्पर संबंधित हैं और एक दूसरे पर निर्भर हैं।

जैव विविधता के लाभ (jaiv vividhata ke Labh)

  • पारिस्थितिक: जैव विविधता पारिस्थितिक तंत्र और पारिस्थितिक प्रक्रियाओं के संतुलन को बनाए रखने में मदद करती है, जैसे परागण और पोषक चक्रण।
  • आर्थिक: जैव विविधता मूल्यवान सामान और सेवाएं प्रदान करती है, जैसे भोजन, दवा और लकड़ी।
  • सामाजिक: मानव संस्कृति और कल्याण के लिए जैव विविधता महत्वपूर्ण है, मनोरंजक अवसर, आध्यात्मिक और सौंदर्य मूल्य प्रदान करती है।
  • वैज्ञानिक: जैव विविधता वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए जानकारी का एक मूल्यवान स्रोत है, जो प्राकृतिक दुनिया की हमारी समझ को गहरा करने और संरक्षण के प्रयासों में सुधार करने में मदद करती है।
  • जलवायु परिवर्तन: पर्यावरण से कार्बन डाइऑक्साइड और अन्य ग्रीनहाउस गैसों को अवशोषित करके, समुद्र तटों की रक्षा और कटाव, मिट्टी के क्षरण और मरुस्थलीकरण को रोककर, पृथ्वी की जलवायु को विनियमित करने में जैव विविधता और पारिस्थितिक तंत्र महत्वपूर्ण हैं।

जैव विविधता मानवता के अस्तित्व और ग्रह के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है, और इसकी सुरक्षा वैश्विक प्राथमिकता होनी चाहिए।

जैव विविधता का महत्व (jaiv vividhata ka mahatva)

जैव विविधता, या पृथ्वी पर जीवन की विविधता, कई कारणों से महत्वपूर्ण है। यह पारिस्थितिक तंत्र सेवाओं को बनाए रखने के लिए आवश्यक है, जैसे कि फसलों का परागण, कीट नियंत्रण और मृदा संरक्षण। जैव विविधता पृथ्वी की जलवायु प्रणाली के कामकाज और मानव आजीविका के लिए संसाधन उपलब्ध कराने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

इसके अतिरिक्त, जैव विविधता इसके आंतरिक मूल्य के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह हमारे ग्रह पर जीवन की अविश्वसनीय विविधता का प्रतिनिधित्व करती है। जैव विविधता के नुकसान से पारिस्थितिक तंत्र सेवाओं में गिरावट आ सकती है और मानव कल्याण पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए, नैतिक और व्यावहारिक दोनों कारणों से जैव विविधता का संरक्षण और सुरक्षा करना महत्वपूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *