पी ब्लॉक के तत्व किसे कहते हैं?
x

पी ब्लॉक के तत्व किसे कहते हैं?

ऐसे तत्व जिनका अंतिम इलेक्ट्रॉन पी-ऑर्बिटल में प्रवेश करता है, उसे हम पी ब्लॉक तत्व कहते हैं। सामान्य इलेक्ट्रॉनिक विन्यास ns²np¹⁻⁶

पी ब्लॉक तत्व किसे कहते हैं? और इसके तत्व और विशेषताएं
x

12th, Chemistry, Lesson-7

दूसरे शब्दों में इसे कहे तो, तत्वों के वर्गीकरण की आधुनिक आवर्त सारणी में 13 से 18 वर्गों में रखे गए तत्वों को पी ब्लॉक तत्व कहते हैं। क्योंकि इन वर्गों के प्रत्येक तत्व के कक्षक का अंतिम इलेक्ट्रॉन पी-उपकोश मे भरा जाता है।

तत्व के सामान्य लक्षण

  1. ये तत्व सहसंयोजी यौगिक का निर्माण करते हैं।
  2. इनके बाह्यतम कोश का विन्यास ns²np¹ से ns²np⁶ तक होता है।
  3. पी ब्लॉक तत्व के ऑक्साइड प्रायः अम्लीय होते हैं।
  4. कुछ तत्व निश्चित हुआ कुछ परिवर्ती ऑक्सीकरण अंक दर्शाते हैं।
  5. ये तत्व तीनों अवस्थाओं ठोस द्रव गैस के रूप में पाए जाते हैं।
  6. इन तत्वों में धातुएं तथा अधातुए दोनों सम्मिलित है, किन्तु अधातुओं की संख्या अधिक है।
  7. पी ब्लॉक के तत्वों में अधातु की संख्या अधिक होती है।
  8. आवर्त सारणी के पी-खंड में कुल 6 वर्ग हैं।

पी ब्लॉक तत्वों के मुख्य तत्व

  1. धातु– एलुमिनियम (al), गैलियम (ga), इंडियम(in), थैलियम(ti), लेड(pb), टिन (sn), बिस्मथ (Bi)
  2. अधातु– कार्बन (C), नाइट्रोजन (N), ऑक्सीजन (O), फास्फोरस (P), सल्फर (S), सेलेनियम (Se)
  3. हैलोजन- फ्लोरीन (F), क्लोरीन (Cl), ब्रोमीन (Br), आयोडीन (I)
  4. उपधातु– बोरोन (B), सिलिकॉन (Si), जर्मेनियम (Ge), आर्सेनिक (As), एंटीमनी (Sb), टेल्यूरियम (Te), पोलोनियम (Po)
  5. अक्रिय गैसे– नियॉन (Ne), ऑर्गन (Ar), क्रिप्टॉन (Kr), जेनोन (Xe), रेडोन (Rn)

अंतिम निष्कर्ष– दोस्तों आज मैंने इस पोस्ट के द्वारा आपको बताया कि पी ब्लॉक के तत्व क्या होते हैं और इसकी सारणी के बारे में बताया अगर यह पोस्ट आपको मेरी पसंद आती है तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करें अगर आप पढ़ाई से संबंधित जानकारी तुरंत प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन अवश्य करें जी धन्यवाद

Read More

free online mock test

Read more – स्टील और स्टेनलेस स्टील के बीच क्या अंतर है?

Read more – ऊर्जा के प्रमुख स्रोतों का वर्णन कीजिए।

Read more – ऊर्जा संरक्षण क्यों आवश्यक है?

Read more- जनसंख्या वृद्धि के महत्वपूर्ण घटकों की व्याख्या करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *