शैवाल तथा कवक में क्या अंतर है

शैवाल तथा कवक में क्या अंतर है?

शैवाल की परिभाषा

शैवाल एक शब्द है जिसका उपयोग यूकेरियोटिक, प्रकाश संश्लेषक जीवों के एक बड़े, विविध समूह का वर्णन करने के लिए किया जाता है। शैवाल एककोशिकीय हो सकते हैं, कालोनियों में रह सकते हैं, या बहुकोशिकीय भी हो सकते हैं। विस्तृत विविधता वाले शैवाल उन्हें वर्गीकृत करने के लिए कठिन बनाते हैं। शैवाल दोनों स्थलीय और समुद्री वातावरण में फैलते हैं, लगभग कहीं भी पानी और सूरज की रोशनी बढ़ती है। पौधों की तरह शैवाल, प्रकाश संश्लेषक जीव हैं। शैवाल का एक समूह, हरे शैवाल, पौधों के साथ भी वर्गीकृत किया जाता है क्योंकि जीव समान हैं।

शैवाल तथा कवक में क्या अंतर है
शैवाल तथा कवक में क्या अंतर है

कवक की परिभाषा

कवक एकल कोशिका वाले या बहुत जटिल बहुकोशिकीय जीव होते हैं। ये बस किसी भी निवास स्थान में पाए जाते हैं, लेकिन ज्यादातर जमीन पर रहते हैं, मुख्य रूप से समुद्र या ताजे पानी के बजाय मिट्टी या पौधों की सामग्री पर। एक समूह जिसे डीकंपोज़र कहा जाता है, मिट्टी में या मृत पौधे के मामले में बढ़ता है, जहां वे कार्बन और अन्य तत्वों के साइकलिंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

free online mock test

शैवाल की विशेषताएं

  1. हरित लवक की उपस्थिति के कारण शैवाल स्वपोषी होते हैं।
  2. यह प्रायः जलिया होते हैं। कुछ शैवाल नम मिट्टी में भी उगते हैं।
  3. शारीरिक संरचना सरल होती है। तथा किसी प्रकार के उत्तक नहीं पाए जाते हैं।
  4. इनमें जनन इकाई चल होती हैं।
  5. कोशिका भित्ति सैलुलोस से बनी होती है।

कवक की विशेषताएं

  1. हरित लवक के अभाव में यह विषमपोषी होते हैं। अर्थात प्रायः मृतजीवी या परजीवी होते हैं।
  2. शारीरिक संरचना सरल सूत्रों या धागों की तरह के कवक सूत्रों से होती है।
  3. जननायक विधियों से होता है तथा किसी न किसी प्रकार से बीजाणु बनते हैं।
  4. कोशिका भित्ति कवक सैलुलोस से बनी होती है।

शैवाल तथा कवक में अंतर

शैवाल

  1. यह जलीय होते हैं।
  2. पर्णहरित के कारण स्वपोषी होते हैं।
  3. कोशिका भित्ति सैलुलोस की बनी होती है।
  4. इनमें संचित भोजन मंण्ड के रूप में होता है।
  5. जनन इकाइयां चल होती हैं।

उदाहरण- स्पाइरोगाइरा, वॉलवॉक्स, क्लोरेला आदि।

कवक

  1. यह स्थलीय होते हैं।
  2. पर्णहरित के अभाव मैं परपोषी होते हैं।
  3. कोशिका भित्ति कवक सैलुलोस की बनी होती है।
  4. इनमें संगीत भोजन ग्लाइकोजन के रूप में होता है।
  5. जनन इकाइयां चल होती हैं।

उदाहरण- म्यूकर , राइजोपस, आदि।

1. कवक की परिभाषा बताइए?

कवक एकल कोशिका वाले या बहुत जटिल बहुकोशिकीय जीव होते हैं। ये बस किसी भी निवास स्थान में पाए जाते हैं, लेकिन ज्यादातर जमीन पर रहते हैं, मुख्य रूप से समुद्र या ताजे पानी के बजाय मिट्टी या पौधों की सामग्री पर।

read more – ‘एक दलीय प्रणाली’क्या है?

Read more – स्टील और स्टेनलेस स्टील के बीच क्या अंतर है?

Read more – ऊर्जा के प्रमुख स्रोतों का वर्णन कीजिए।

Read more – ऊर्जा संरक्षण क्यों आवश्यक है?

Read more- जनसंख्या वृद्धि के महत्वपूर्ण घटकों की व्याख्या करें।

click here – click

One thought on “शैवाल तथा कवक में क्या अंतर है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *