मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार-

मानव नेत्र- मानव नेत्र अत्यंत मूल्यवान एवं सुग्राही ज्ञानेंद्रिय है। या हमें इस अद्भुत संसार तथा हमारे चारों ओर के रंगों को देखने योग्य बनाता है। आंखें बंद करके हम वस्तुओं को उनकी गंद, स्वाद, उनके द्वारा उत्पन्न ध्वनि या उनको स्पर्श करके, कुछ सीमा तक पहचान सकते हैं, तथापि आंखों को बंद करके रंगों […]

10th class