आयनन ऊर्जा से क्या तात्पर्य है-

1-आयनन ऊर्जा- किसी विलगित (आइसोलेटेड) गैसीय अवस्था वाले परमाणु के सबसे शिथिलतः बद्ध (लूजली बाउण्ड) इलेक्ट्रान को परमाणु से अलग करने के लिये आवश्यक ऊर्जा, आयनन ऊर्जा ( ionization energy (IE)) या ‘आयनन विभव’ या ‘आयनन एन्थैल्पी’ कहलाती है। {\displaystyle \ A_{(g)}+E_{I}\to A_{(g)}^{+}\ +e^{-}}. जहाँ {\displaystyle A_{(g)}} किसी रासायनिक तत्त्व का गैसीय अवस्था में स्थित परमाणु है; E_i, आयनन ऊर्जा है जिसको प्रथम आयनन […]