त्रिविम समावयवता क्या है?

समावयवता दो या दो से अधिक योगिक जिनका अनुसूत्र तथा अणुभार समान होता है परंतु संरचना या त्रिविम में परमाणुओं कि व्यवस्था भिन्न होती है उसे समावयवी कहलाते हैं तथा इस घटना को समावयवता कहते है। समावयवता के दो प्रकार की होती हैं। 1.सरचना समावयवता (क)श्रंखला समावयवता– , वे योगिक जिनके अनुसूत्र समान तथा अणुभार […]

12th class