Cart () - ₹0
  1. Home
  2. / blog
  3. / biodiversity-meaning-definition-in-hindi

जैव विविधता क्या है? | प्रकार

जैव विविधता क्या है? | प्रकार

Biodiversity अर्थात जैव विविधता: विभिन्न प्रकार के जीवित जीवों के बीच का अंतर

जैव विविधता के जनक

जैव विविधता (Biodiversity) के जनक "थॉमस यूजीन लवजॉय" ने 1980 में जैविक (biological) और विविधता (diversity) शब्दों को मिलाकर (biological diversity) या जैविक विविधता शब्द को बनाया था। परंतु यह शब्द उपयोग मे बड़ा महसूस होता था, इसलिए (biological diversity) शब्द 1985 में डब्ल्यू. जी. रोसेन ने 'Biodiversity' या जैव विविधता शब्द बनाया।

जैव विविधता (Biodiversity) के जनक "थॉमस यूजीन लवजॉय" ने 1980 में जैविक (biological) और विविधता (diversity) शब्दों को मिलाकर (biological diversity) या जैविक विविधता शब्द को बनाया था।

जैव विविधता की परिभाषा?

जैव विविधता विभिन्न स्रोतों से जीवित जीवों के बीच का अंतर है। जिसमें स्थलीय, समुद्री और रेगिस्तानी पारिस्थितिक तंत्र अर्थात (ecosystem) और पारिस्थितिक परिसर शामिल होते हैं, जिनमें दे सभी एक दूसरे एक हिस्सा होता हैं।

Definition of Biodiversity

जैव विविधता के प्रकार

जैव-विविधता (Biodiversity) तीन प्रकार की होती हैं।

  • आनुवंशिक विविधता- एक प्रजाति के जीवों के जीनों में होने वाले परिवर्तन को आनुवंशिक विविधता या एक ही प्रजाति मे होने वाले परिवर्तन को आनुवंशिक विविधता कहते हैं।
  • प्रजातीय विविधता- प्रजाति विविधता दो प्रजातियों के मध्य होती है। एक विशेष छेत्र में उपस्थित प्रजातियों के मध्य उपस्थित विविधताएँ प्रजातीय विविधता कहलाती है।
  • पारितंत्र विविधता- यह कई भू-रूप हो सकते हैं तथा प्रत्येक भू-भाग में विभिन्न एवं विशेष प्रकार की वनस्पतियाँ एवं जीव-जन्तु पाये जाते हैं। इसको पारितंत्र विविधता या पारिस्थितिक तंत्रीय विविधता कहते है।

प्रजातियों में पायी जाने वाली आनुवंशिक अंतर को आनुवंशिक विविधता के नाम से जाना जाता है।