Cart () - ₹0
  1. Home
  2. / blog
  3. / permanent-magnet-in-hindi

स्थायी चुंबक क्या है? | विधि | उपयोग

स्थायी चुंबक क्या है? | विधि | उपयोग

permanent magnet in hindi: दोस्तों मेरी वेबसाइट में आपका स्वागत है, मैने इस पोस्ट में स्थायी चुंबक क्या है? तथा इसे बनाने की विधि व इसके उपयोग इसके बारे में पूरी जानकारी दी है, यदि आप जानकारी पाना चाहते है, तो इस पोस्ट को पूरा पढ़िए।

स्थायी चुंबक क्या है?

स्थाई चुंबक स्टील से बनाए जाते हैं। स्टील की छड़ एक बार चुम्बकित (magnetized) हो जाने पर आसानी से विचुम्बकित (demagnetized) नहीं होती है, क्योंकि स्टील की धारण शक्ति, नर्म लोहे की अपेक्षा बहुत अधिक होती है।

स्थाई चुंबक स्टील से बनाए जाते हैं। स्टील की छड़ एक बार चुम्बकित (magnetized) हो जाने पर आसानी से विचुम्बकित (demagnetized) नहीं होती है

स्थायी चुंबक बनाने की विधि

स्थायी चुंबक बनाने के लिए स्टील, कोबाल्ट व निकिल धातुओं की जरूरत पड़ती है, इनको मिश्रित करके यह चुंबक बनाई जाती है तथा इस चुंबक की चुम्बकत्व शक्ति शीघ्र नष्ट नहीं होती है, इसलिए इसे स्थायी चुंबक कहते है।

स्थायी चुंबक के उपयोग

  1. स्थाई चुंबक का उपयोग विद्युत मीटरों में किया जाता है।
  2. इसका उपयोग धारामापी, अमीटर और वोल्टमीटर में भी किया जाता है।
  3. स्थाई चुंबक का इस्तेमाल चुंबकीय कंपास बॉक्स में भी किया जाता है।
  4. इस चुंबक का उपयोग डीसी मोटर और बड़े-बड़े जनरेटर में भी करते है।
  5. यह चुंबक का उपयोग साउंड स्पीकर में भी करते हैं।

विद्युत चुंबक और स्थायी चुंबक में अंतर

विद्युत चुंबक स्थायी चुंबक
1. इसमें अधिक शक्तिशाली चुंबकीय बल रहता है। इसमें कम शक्तिशाली चुंबकीय बल रहता है।
2. इसमें धारा के बंद होते ही चुंबकीय गुण समाप्त हो जाता है। यह अधिक दिनों तक अपने चुंबकीय गुण (magnetic properties) को बनाए रखता है।
3. इसकी शक्ति को कुंडली में फेरों की संख्या (number of turns) मैं परिवर्तन करके बढ़ाया जा सकता है। इसकी शक्ति नियत रहती है।
4. विद्युत चुंबक नर्म लोहे से बनाया जाता है। स्थायी चुंबक स्टील से बनाया जाता है।
5. इससे केवल तभी तक चुंबकीय क्षेत्र (magnetic Field) उत्पन्न होता है जब तक की कुंडली में धारा बहती है, अर्थात इससे चुंबकीय क्षेत्र अस्थायी होता है। इससे उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र स्थायी होता है।
6. विद्युत चुंबक के सिरों की ध्रुवता बदली जा सकती है। स्थायी चुंबक के सिरों की ध्रुवता (polarity) नहीं बदली जा सकती है।